अमरनाथ-यात्रा (जालंधर)


दिल्ली से लगभग साढ़े ग्यारह बजे लग्ज़रियस छोटी बस से चले और सुबह सात बजे के आसपास जालंधर पहुँच गए। वहाँ देवी तालाब मंदिर में कमरा लिया। स्नान-ध्यान के बाद थोड़ा विश्राम करके मंदिर के दर्शन को निकले।
देवी तालाब मंदिर का नाम हमने टीवी के किसी चैनल पर देवी-जागरण के लाइव टेलीकास्ट में देखा था। पर अब साक्षात थे।
मंदिर विशाल क्षेत्र में बना है। चारों ओर बड़े तालाब से घिरा है। तालाब के चारों ओर फैला विशाल प्रांगण! उसके चारों ओर कमरे और धर्मशाला इत्यादि।
मंदिर में प्रबंध और सुविधा बहुत अच्छी थीं। कोई मारामारी नहीं। मुख्य मंदिर माँ देवी दुर्गा का होते हुए भी अन्य सभी देवी-देवताओं की मूर्तियाँ विराजमान थीं। सुंदरता के साथ-साथ सफ़ाई थी। बाहर तालाब में तैरती मछलियाँ आकर्षण का केंद्र थीं।
जालंधर की गर्मी अच्छी थी। लगभग बारह बजे हम आगे बढ़ गए।

टैग: , ,

2 Responses to “अमरनाथ-यात्रा (जालंधर)”

  1. kayam singh Says:

    bahut acha yatriya vivran bataya hai

  2. समीर लाल Says:

    जारी रखिये आगे की यात्रा का विवरण.

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s


%d bloggers like this: