ठेकेदारी

जीवन में ठेकेदारी का बड़ा महात्म्य बताया गया है। हर काम ठेके पर देने से मालिक एक दम निरचु हो जात है, कोई चिंता नाहीं रहत। सब ठेकेदार करेगा। अब ठेकेदार की मर्जी वो कब काम करे, कैसे करे, किससे करवाए और कहाँ करे।
धीरे-धीरे ठेकेदार मालिक की सोच पर कब्ज़ा लेता है। मालिक को भले-बुरे का ज्ञान देता है, सुंदर- असुंदर की पहचान बताता है। मालिक पूरी तरह कठपुतली, क्योंकि मालिक अकेला ठेकेदार आपस में मिले रहते हैं। अगर मालिक तीन दो पाँच करे तो काम छोड़ने की धमकी और दूसरे ठेकेदार-एकता का परिचय देते हुए उसके काम को ही ठीक बताएँगे। आज उसका मालिक आँख दिखा रहा है कल हमारा दिखाएगा। इसलिए सही को भी ग़लत कहकर इनकी सोच को ही नकार दो।
मालिक मजबूर होता है विचारों से मजदूर होता है। अब पूरी तरह ठेकेदार की पकड़ में होता है। कच्चा-माल, पक्का माल सभी ठेकेदार की पसंद का और उसकी सुझायी दुकान से ही ख़रीदना पड़ता है। अगर आपकी पसंद का सामान नहीं भी है न तो ठेकेदार की प्रस्तुति आपको सम्मोहित करके आपसे वही सामान खरीदवा देगी जो आप लेने की सोच भी नहीं रहे होते हैं। यदि तुमने अपनी चलायी तो ठेकेदार कोई ऐसा नुकसान कर देगा कि सबकुछ भूल जाओगे तो फ़िर यही ठीक है कि उसकी ही चलने दो।
कौन दिमाग़ ख़राब करे, इतना समय कहाँ है जो सबकुछ अपने आप करें। बस ठेकेदार के मज़े, वो आपकी कमज़ोरियों को भाँप लेता है और अपना फायदा पहले सोचकर आपका काम शुरु करता है। एक आप है कि जानते हुए भी कुछ नहीं कर पाते हैं और उसकी तारीफ़ के ही पुल बाँधते हैं, नहीं तो वो आपको पूरी कॉलोनी में रुसबा न कर देगा।
आप सोचते हैं अरे! ठीक है इसे भी कुछ खाने कमाने दो। कौन सा हमने ईमानदारी से कमाया है। मालिकाना नाम तो हमारा ही है। खाएगा तो हर हाल में क्योंकि हम तो पेन लेंगे नहीं, इसलिए अच्छा है चुपचाप खाने दो अनजान बने रहो, कम से कम हमारी तारीफ़ के पुल तो बाँधेगा चार लोगों में- ’अरे वो तो बहुत अच्छे हैं। काम करवाना तो कोई उनसे सीखे। कभी किसी बात पर नहीं बोलते। ऐसे मालिक़ का काम ही करना पसंद है हम ठेकेदारों को।’

टैग:

2 Responses to “ठेकेदारी”

  1. Satish Chandra satyarthi Says:

    अच्छा आलेख

  2. Neeraj Says:

    होली की ढेरों रंग बिरंगी शुभकामनाएं.
    नीरज

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s


%d bloggers like this: